यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा नई अपडेट कमेटी तय करेगी कि छात्रों को कैसे प्रमोट किया जाए

0
3


प्रयागराजी [राज्य ब्यूरो]। उत्तर माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) के उच्च विद्यालय के परीक्षार्थियों को प्रोन्नत का विषय योगी आदित्यनाथ है। 29.94 लाख परीक्षण किया गया है। विशेष रूप से उदयभान त्रिपाठी की शिक्षा में माध्यमिक शिक्षा के लिए अफसरों कमेटी कमेटी

यह कमेटी तय करेगी कि परीक्षार्थियों को दिए जाने वाले परीक्षा परिणाम पर विषयवार अंक दिए जाएं या फिर उन्हें प्रोन्नत लिखकर ही अंकपत्र का वितरण हो, या फिर इसके अलावा भी कोई रास्ता हो सकता है? शासन शिक्षा 🙏 हिन्दू यूपी बोर्ड के अध्यक्ष भी हैं। पोस्ट के बाद अंक अंक के अंक क्रम-प्रक्रिया जारी की गई। रखने के लिए

पहला प्रत्येक विद्यार्थी-छाया ही वह व्यक्ति की पहचान करता है जो पिछले अंक लेखा बोर्ड के है। आधार पर परीक्षा परिणाम का परीक्षण किया जाएगा। परीक्षार्थी में यह कौतूहल भी है कि बोर्ड प्रथम, द्वितीय श्रेणी, ग्रेडिंग के आधार पर मोट या फिर अंक लेखा में दर्ज करें? ठीक समय पर निदान।

अपर मुख्य माध्यमिक शिक्षा की ओर से यह भी कहा गया है कि कोरोना संक्रमण से स्थिति खराब होने पर स्थिति खराब होती है। कितनी देर तक, प्रतीक्षा करें।

तीन दिन में चौका : जलवायु के सभी प्रकार से लागू होने वाली स्थिति में स्थिति, सात, आठ, दसवीं, डॉक्‍ट और वैट में वृद्धि के साथ परिणाम होगा या फिर जब कोई समस्या होगी तो वे लागू होने वाले क्षेत्र में लागू होंगे। वह। घटना में जांच करने का अपराध. इस क्रिया का प्रबंधन मंडलीय सम्‍मिलित सम्‍बन्‍धी समस्‍याएं मंडल में सुचारु मौसम के लिए हल करने के लिए।

यह भी आगे: यूपीपी बोर्ड के 100 साल के इतिहास में बार बार स्कूल का रिजल्ट वापस आता है

यह भी आगे: यूपी बोर्ड परीक्षा को रोगी के लिए राहत की अवधि में राहत

मे जानें सभी बड़ी खबरें और अनुभव ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़, और अन्य सेवाएं, जन जागरण ऐप डाउनलोड करें

.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here