छत पर कपड़े सुखाने आयी 20 साल की लड़की के साथ रेप की घटना आयी सामने, फिर हुआ देश शर्मसार

0
7


राजस्थान की राजधानी जयपुर में 20 साल की एक लड़की से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। जहां पीड़िता और आरोपी दोनों ही एक मकान में किराए पर रहते हैं। जिसमें आरोपी का दोस्त भी मददगार बना। वारदात के बाद आरोपी अपने साथी के साथ मौका पाकर भाग निकला। इसके बाद पीड़िता के पिता ने आरोपियों के खिलाफ शिप्रापथ थाने में मुकदमा दर्ज करवाया। केस की जांच आरपीएस नरेश बंशीवाल कर रहे हैं। बीते गुरुवार को यह मामला सामने आया था।

पुलिस द्वारा लिखी गई रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता अपने माता-पिता और भाई के साथ मानसरोवर क्षेत्र के एक मकान में किराए से रहती है। इसी मकान में आरोपी शशिकांत सैनी भी छत पर बने कमरे में किराए से रह रहा था। वह खुद को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करना वाला बताता था। 6 जुलाई को सुबह 9:30 बजे पीड़िता युवती मकान की छत पर कपड़े सुखाने गई थी। तब शशिकांत भी कमरे से बाहर आया।

उसने पीड़िता को अकेला पाकर उसका हाथ पकड़ लिया। इसके बाद जबरन खींचते हुए अपने कमरे में ले गया और दुष्कर्म किया। पीड़िता के काफी विरोध करने और चीखने-चिल्लाने के बाद भी शशिकांत नहीं रुका। वह दरिंदगी की सभी हदे पार कर दी। उसने निगरानी के लिए अपने दोस्त को कमरे के बाहर बंद दरवाजे पर खड़ा कर रखा था।

पीड़िता के भाई ने लातें मारी, तब खुला दरवाजा, बहन रोने लगी

सूत्रों और रिपोर्ट के मुताबिक घटना के दौरान ही पीड़िता के भाई ने उसे आवाज लगाई। काफी देर तक छत से नीचे नहीं आने पर पीड़िता का भाई छत पर चला गया। वहां बहन की आवाजें सुनी। उसे देखकर गेट पर मौजूद लड़का भाग निकला। इसके बाद पीड़िता के भाई ने लातें मारकर कमरे का दरवाजा खोला। तब बहन को आपत्तिजनक हालत में देखकर भाई पूरी तरह घबरा गया। उसने बहन को संभाला। तब तक शशिकांत उसे धक्का देकर भाग निकला था। उसका मोबाइल फोन भी कमरे में छूट गया।

बेटे ने पिता को दी जानकारी, तब थाने पहुंचकर केस दर्ज करवाया

बताया जा रहा है कि किराएदार की करतूत से भाई-बहन घबरा गए। इसके बाद पीड़िता के भाई ने अपने पापा को फोन कर घर बुलाया। इसके बाद पीड़िता ने पिता से आपबीती बताई। तब वे शिप्रापथ थाने पहुंचे। आरोपी शशिकांत के खिलाफ दुष्कर्म करने और उसके दोस्त के खिलाफ दुष्कर्म में सहयोग करने का मुकदमा दर्ज करवाया। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here